हमेशा से बॉलीवुड पर ये आरोप लगता है कि यहां पर छोटे शहरों से आए, बिना किसी फिल्मी बैकग्राउंड या किसी बड़ी हस्ती या बड़े परिवार के कनेक्शन के आए लोग अपनी जगह नहीं बना पाते। हमेशा से बॉलीवुड का एक पॉवरफुल गैंग है जो बाहरी लोगों को अपनी जूती की नौक पर रखता है, कोई ज्यादा तेज या ऊंचा उड़ने की कोशिश करता है, उसके पर काट दिए जाते हैं। यही गैंग सुशांत की मौत का जिम्मेदारी है, ये कहना बॉलीवुड की कुछ जानी मानी हस्तियों का।

शेखर कपूर सुशांत के साथ एक मूवी ‘पानी’ बना रहे थे, लेकिन वो अटक गई, जाहिर है सुशांत ने उन्हें अपने दिल की परेशानियां बताई होंगी। यूं खुद शेखर कपूर देवआनंद के भांजे हैं और उनको इस कनेक्शन का फायदा मिला होगा लेकिन हमेशा से उन्होंने स्थापित कलाकारों के बजाय नए लोगों पर दांव आजमाया। चाहे अमिताभ के मना करने पर अनिल कपूर को लेकर ‘मिस्टर इंडिया’ बनाई हो या फिर ‘बैंडिट क्वीन’ में एकदम नए चेहरों पर किस्मत आजमाना। सुशांत को भी अपने हॉलीवुड प्रोजेक्ट ‘पानी’ में लेना इसी दिशा में एक कदम था। वो आज इशारा कर रहे हैं कि सुशांत पिछले 6 महीने से क्या झेल रहे थे।

वो कंगना रानाउत ही हैं, जो बाहरी होने का दर्द बॉलीवुड में बखूबी समझती हैं कि कैसे यहां प्रोडयूसर, डायरेक्टर, बड़े फिल्मी घराने, प्रोडक्शन हाउसेज और एंटरटेनमेंट बीट के कुछ पत्रकारों का नेक्सस चलता है, जो छोटे शहर और बिना बैकग्राउंड वालों को लगातार निशाने पर लेता है, उनको सुसाइड जैसे कदम के लिए उकसाता है। इतनी इमेज खराब कर देता है कि लोग उसे सच मान लेते हैं। कंगना का कहना है कि सुशांत को भी अब एक कमजोर दिल का लड़का साबित करने की कोशिश की जारी है।

रणवीर शौरी जिन रोल्स के हकदार हैं उन्हें कभी नहीं मिले, उनका ये दर्द सुशांत की मौत के बाद उभरकर सामने आ गया और वो लिख रहे हैं कि कैसे ‘गेटकीपर्स ऑफ बॉलीवुड’ तय करते हैं कि कौन घुसेगा और कौन रुकेगा। वो इशारा कर रहे हैं कि कैसे लोगों का अरबों रुपया दाव पर होता है, इसलिए वो एक एक प्यादे को अपना गुलाम बनाकर रखना चाहते हैं। प्रियंका चोपड़ा की एक कजिन मीरा चोपड़ा ने तो बाकायदा सुशांत राजपूत से पूरी फिल्म इंडस्ट्री की तरफ से माफी मांगी है और आउटसाइडर होने का दुख भी शेयर किया है।

ग्लेमर की गलियों की चकाचौंध के पीछे तमाम अंधेरे हैं, तमाम साजिशें हैं, गिराने की, उठाने की, किंगमेकर बनने का ख्वाब पूरा करने की, हर मोड पर अपने प्यादे बैठाने की और जो इस साजिश में साथ नहीं देता है, गैंग की ख्वाहिशों के आगे झुकने से इनकार कर देता है, वो अंजाम भुगतता है। गुरुदत्त से लेकर सुशांत राजपूत तक तमाम अफसाने हैं बॉलीवुड के, जो आज आपको चौंका रहे हैं, कल आप भी भूल जाएंगे।