राहुल गांधी ने अपने जन्मदिन यानी 19 जून को चीन के मुद्दे पर मोदी सरकार को घेरने के लिए एक ट्वीट किया और वाहवाही लूटने की कोशिश की, जिसमें एक सैनिक के बूढ़े पिता बलवंत सिंह मीडिया से बात कर रहे हैं और बता रहे हैं कि कैसे उनके बेटे ने बताया कि हम कम थे और चीन सैनिक कई गुना, अचानक सेे हमला बोल दिया। उनका बेटा अभी घायल है और हॉस्पिटल में हैं। लेकिन सैनिक के पिता को राहुल गांधी की ये राजनीति पसंद नहीं आई, उन्होंने एक वीडियो जारी करके आज राहुल गांधी को साफ बोल दिया कि, ‘राहुल गांधी, आप नेतागिरि मत करना , ये राजनीति अच्छी नहीं’।

ये सैनिक के पिता बलवंत सिंह को समझ आ गया था कि जो उन्होंने बोला है, उसको गलत तरीके से तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया है, और जाहिर है उनकी उम्र इतनी है कि बेटे ने मन रखने के लिए कुछ भी समझा दिया होगा। लेकिन ये मीडिया में इस तरह जाएगा और फिर राहुल गांधी जैसे वरिष्ठ नेता इस तरह से इस बयान का राजनैतिक फायदे के लिए इस्तेमाल करेंगे, बलवंत सिंह ने सोचा नहीं होगा। तभी उन्होंने आज ये वीडियो जारी करके राहुल गांधी को 2 टूक जवाब दे दिया

बलवंत सिंह इस वीडियो में ये भी कह रहे हैं कि भारतीय सेना मजबूत सेना है, चीन को हरा सकती है। उन्हें भारतीय सेना का ये अपमान राहुल की ट्वीट में पसंद नहीं आया है। वो दावा कर रहे हैं कि मेरा बेटा ठीक होकर जल्द आएगा और फिर से लड़ेगा। उनका ये जज्बा वाकई में काबिले तारीफ है। तभी मौका देखकर मैदान में उतर गए हैं अमित शाह भी

राहुल गांधी जैसे दिग्गज नेताओं को भी इन भावनाओं की कद्र करते हुए शहीदों, या घायल सैनिकों के परिजनों का इस्तेमाल बिना उनकी इजाजत के अपनी राजनीति के नहीं करना चाहिए, यही कहना चाहते हैं घायल सैनिक के पिता बलवंत सिंह।