मुंबई: राजस्थान में जारी सियासी संकट के बीच महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल के एक बयान ने राज्य में सियासी सरगर्मियां बढ़ा दी हैं. चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि बीजेपी शिवसेना से हाथ मिलाने को तैयार है. चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि हम सरकार बनाने के लिए शिवसेना से हाथ मिला सकते हैं.
कोल्हापुर में पत्रकारों से बात करते हुए बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि अगर हम सत्ता में वापस आते हैं और शिवसेना के साथ गठबंधन करते हैं तो इसका मतलब नहीं है कि हम उनके साथ चुनाव लड़ेंगे.

उन्होंने कहा कि हम महाराष्ट्र में अकेले चुनाव लड़ेंगे. गौरतलब है कि 25 साल से बीजेपी की सहयोगी रही शिवसेना ने पिछले विधानसभा चुनाव में सीएम पद को लेकर बीजेपी से रिश्ता तोड़ लिया था और कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी से हाथ मिला लिया और महाराष्ट्र में महा विकास अघाड़ी की सरकार बनाई जिसमें मुख्यमंत्री पद उद्धव ठाकरे को मिला था. आपको बता दें कि पिछले दिनों महाराष्ट्र के बीजेपी नेताओं से बात करते हुए बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि आप लोग तैयारी कीजिए कि आगामी चुनाव के दौरान पार्टी को किसी भी तरह की समस्या या दिक्कत का सामना नहीं करना पड़े. इसके लिए सभी अड़चनों को दूर कर दिया जाए.

कहते हैं राजनीति में हर कथन और तस्वीर के मायने होते हैं. महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम अजित पवार ने सोमवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के जन्मदिन के मौके पर एक तस्वीर डाली थी, जिसमें उद्धव और अजित एक गाड़ी में बैठे हैं, जिसकी स्टियरिंग अजित के हाथों में है. वैसे तो ये कोई खास बात नहीं लेकिन एक दिन पहले अगर आप उद्धव ठाकरे का इंटरव्यू देखें तो आपको इस तस्वीर में खास बात नजर आएगी. दरअसल एक दिन पहले एक टीवी इंटरव्यू में उद्धव ठाकरे ने कहा था कि गर तीन पार्टियां की सरकार ऑटो रिक्शा है तो उसकी स्टियरिंग मेरे पास है.